बच्ची को बनाया हवस का शिकार गुस्से मे हुए परिजन।

0
202
nenene 5ddcc7431a8a5
nenene 5ddcc7431a8a5
blob:https://web.whatsapp.com/36c84f3a-b315-4bd0-96f4-ef3b180d1b66

desk – उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में एक नाबालिक दिव्यांग बच्ची के साथ बलात्कार का मामला आने से हड़कंप मच गया. घटना उस वक्त हुई, जब मां दवाई लेने बछरावां आई हुई थी, वापस जाने पर जब पूछा कि बच्ची कहां है तो घर वालों से पता चला कि वह लकड़ी काटने जंगलों की तरफ गई है, जब उसने जंगल में लोगों से पूछा कि उसकी बिटिया कहां है? तो दो लड़कों ने बताया कि उसे कोई खींच कर ले गया है. पीड़िता की मां लड़की को खोजने लगी तभी उसे उसकी कुल्हाड़ी और बिडरी दिखाई दी. कुछ लड़कों ने बताया कि उस तरफ गए हैं मां अपनी बेटी को आवाज दे रही थी तो एक लड़का भागा और एक को मां ने पकड़ लिया. जिसके बाद मां ने अपने बेटे और पति को बताया. फिर पुलिस को बुलाया और पकड़े गये युवक को पुलिस लेकर चली गई. फिलहाल पूरे मामले में एफआईआर दर्ज करते हुए पुलिस ने दूसरे युवक गिरफ्तारी के लिए टीमें गठित कर दी है. पीड़िता की मां का कहना है कि हम दवा लेने बछरावां आए थे, जब यहां से घर गए तो घर में लड़की नहीं थी तो मैंने पूछा कहां गई फिर पता चला की लकड़ी काटने गई है, हम भी कुल्हाड़ी लेकर सोचे कि लकड़ी कटा लें, गल में लड़की नहीं मिली, हम अपनी लड़की को खोजने लगे, बकरी वाले लड़की को घसीट ले गए, वह चिल्लाती रही, मुंह दबा दिए थे उसका, मैंने उनमें से एक लड़के को पकड़ लिया और स्कूल ले गए. पीड़िता की मां ने बताया कि मैंने स्कूल में लड़के को बंद करा दिए, मेरा लड़का मजदूरी करता है और पति खेत में पानी लगाने गए थे, मैंने अपने बेटे को बताया तो बेटा आ गया, तब मैंने 112 को फोन किया, तब पुलिस वाले आए और स्कूल का कमरा खुलवाए, फिर गांव के लोग हमारी बेटी को खोजने लगे, हमारी लड़की जंगल में मिली है. इस मामले में अभी तक पुलिस का कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. हालांकि, पुलिस ने एक आरोपी को पकड़ लिया है और दूसरे की तलाश के लिए टीमें गठित कर दी गई है।

https://banswaranews.in/wp-content/uploads/2022/10/1.512-new-1-scaled.jpg

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here