बांसवाड़ा में स्थित राजस्थान इंस्टीट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस संस्थान कॉलेज रोड पर आदिवासी बालिकाओं एवं उनके परिवारजनों हंगामा कर आक्रोश जताया।

0
156
WhatsApp Image 2023 02 24 at 12.17.38 PM
WhatsApp Image 2023 02 24 at 12.17.38 PM
blob:https://web.whatsapp.com/36c84f3a-b315-4bd0-96f4-ef3b180d1b66

BN बांसवाड़ा न्यूज़ – कारण कई नर्सिंग ,A N M , की पढ़ाई कर रहीं अधिकतर ये ग्रामीण बेटियाँ इनके माता पिता ने कर्ज लेकर एडमिशन करवाया – 70 हजार के करीब मगर इन बेटियों को नर्सिंग परीक्षा हेतु जब दूसरे राज्यों में भेजा, 18 फरवरी 2023 को ,कई बेटियों को अकेले भेजा लोकल ट्रेन से ठहरने की व्यवस्था भी सही नहीं , एक रूम में 20 से 25 बच्चिया , भोजन नाश्ता भी सही नहींजबकि सात हजार रुपया इनसे लिया गया अलग से किराया व् ठहराने का भीलवाड़ा से कोटा वहा से भोपाल जबलपुर परीक्षा केंद्र पर ,तो कई बेटियों के साथ धोखा हुवा इन्हे लोकल ट्रैन में बैठाया गया जब आधी रात रेलवे स्टेशन से अकेली लड़किया जबलपुर पहुंची भयभीत और डरी हुई जैसे थकी हारी सुबह परीक्षा केंद्र पहुंची तो वहा इन्हे परीक्षा नहीं देने दी गई परेशान बेटियों ने जब कहा कि हमारे बांसवाड़ा के सर गुप्ता से बात करो तो वहां इनके मोबाइल छीन लिए क्या बात करें तुम्हारी तो फीस ही नहीं जमा है हमारे पास जो आप ही सुने ऐसी कई बेटियों और भी है जो 4 बाद भी वापस बांसवाड़ा नहीं लौटी थी जबलपुर से कारण पैसे भी खत्म हो गए थे कुछ परीक्षार्थी के पास तो छोटे दूध पीते बच्चे भी है जो जबलपुर में ही फस गई और गुहार लगा रही थी मदद की और परीक्षा देने की यह भी देखे कई परिजन रिश्तेदार जब राजस्थान इंस्टीट्यूट पहुंचे कॉलेज रोड़ पर और कहा की यहाँ के जिम्मेदार व्यक्ति को बुलाओ तो कुछ देर में गुप्ता नामक व्यक्ति पंहुचा और कहने लगा ऐसा कुछ नहीं हुवा इन लड़कियों ने ही पूरी फीस जमा नहीं करवाई मेने तो इनके लिए सोना गिरवी रख दिया मेरा, 3 लाख जेब से भरा है इतने में थाना राजतलाब से पुलिस टीम पहुंची और आक्रोशित ग्रामीण लोगों छात्राओं को समझाया फिर गुप्ता से पूछा क्या है मामला कौन है यहाँ पर मुखिया दस्तावेज दिखाओ इंस्टीट्यूट के पुलिस देखकर मिस्टर गुप्ता पलटे कहने लगे , सर में तो यहाँ वैसे ही बैठता हु दर असल मेरी पत्नी मधु गुप्ता स्टेट हेड है यहाँ पर इस पर आनंदपुरी के ललित और एक महिला ने पूछा हमने तो पुरे सत्तर हजार दिए फिर भी हमारी बेटीयों की परीक्षा क्यों नहीं हुई और भी कई माता पिता गुस्से में नज़र आये खास बात ये रही की इतने बड़े राजस्थान इंस्टीट्यूट ऑफ़ मेडिकल के पास दस्तावेज़ भी नहीं पाए गए मौके पर कहने लगे अभी नहीं है मेडम के पास है हमने तो ओम बिरला से बात कर ली है और उन्होंने शिक्षा मंत्री से बात की है ऑन लाइन 2 घंटे के लिए खुलती है इस हम क्या कर सकते है अब जल्द ही दोबारा इन छात्राओं को नर्सिंग परीक्षा फिर से करवा देंगे पुलिस टीम को भी शंका होने पर मिस्टर गुप्ता को राजतालाब थाने ले जाया गया पूछताछ हेतु ,

जिसमे एक पिता ललित पाल संस्थान के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई कि पूरा पैसा देने के बाद भी बेटी को परीक्षा क्यों नहीं देने दी अब इसका जिम्मेदार कौन मगर बाकी कई पीड़ित परेशान छात्राएं शायद डर या अज्ञानता के कारण क़ानूनी कार्रवाई नहीं कर पाई देखते अब आने वाले दिनों में क्या खुलासा होता है ये जांच का विषय है इस कोचिंग सेंटर और संस्थान का मगर अब क्या इन आदिवासी बेटियों को क्या न्याय मिल पाएगा या लम्बी जाँच प्रक्रिया के नाम पर मामला दब जायेगा अब बारी है जिम्मेदार अधिकारियो की के वो भी अपना कर्तव्य निभाए कही ऐसा तो नहीं बांसवाड़ा में भी कई संस्थानों एवं कोचिंग सेंटरों ने भी नियमों का पालन ना किया हो ये भी गंभीर जाँच का विषय है जब तक के लिए।

https://banswaranews.in/wp-content/uploads/2022/10/1.512-new-1-scaled.jpg

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here