मुख्यमंत्री ने किया जयपुर शहर के विकास कार्यों का किया अवलोकन।

0
102
114659 Image 8187935b 08be 4f5b af63 737974d5caf2 768x437
114659 Image 8187935b 08be 4f5b af63 737974d5caf2 768x437
blob:https://web.whatsapp.com/36c84f3a-b315-4bd0-96f4-ef3b180d1b66

BN बांसवाड़ा न्यूज़ – जयपुर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत प्रदेश में हो रहे विकास कार्यों को लेकर गंभीर है। उन्होंने रविवार को जयपुर शहर का मैराथन दौरा करते हुए विभिन्न निर्माणाधीन प्रोजेक्ट्स का निरीक्षण किया | गहलोत ने पुरानी विधानसभा (सवाई मानसिंह टाउन हॉल) में विश्वस्तरीय राजस्थान धरोहर संग्रहालय, श्री गोविंद देवजी मंदिर, सवाई मानसिंह चिकित्सालय में आईपीडी टॉवर, महात्मा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ गवर्नेंस एण्ड सोशल साइंसेस तथा गांधी दर्शन म्यूजियम पहुंचकर अधिकारियों को समयबद्ध और गुणवत्तापूर्ण कार्यों के निर्देश दिए। राजस्थान धरोहर संग्रहालय के कार्यों का अवलोकन – मुख्यमंत्री ने बड़ी चौपड़ के पास जलेब चौक स्थित पुरानी विधानसभा पहुंचकर विश्वस्तरीय राजस्थान धरोहर संग्रहालय के कार्यों का अवलोकन किया। यहां पर कला, साहित्य, संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग की प्रमुख शासन सचिव गायत्री राठौड़ ने कार्यों की प्रगति की मॉडल्स और नक्शों के जरिए जानकारी दी। गहलोत ने हैरिटेज स्वरूप में ही निर्माणाधीन संग्रहालय में पर्यटकों की सुविधाओं के बारे में भी जाना। उन्होंने अधिकारियों को समयबद्ध और गुणवत्तापूर्ण कार्यों के लिए दिशा-निर्देश दिए।उल्लेखनीय है कि संग्रहालय आधुनिक तकनीक से लैस होगा। यहां राजस्थान के प्रत्येक क्षेत्र की क्षेत्रीयता, चित्रकला, स्कल्पचर, स्मारकों, कला-संस्कृति, रहन-सहन, खानपान आदि की विशेषताओं को समाहित किया जा रहा है। यहां प्रत्येक गैलेरी थीम आधारित होगी। गहलोत ने कहा कि म्यूजियम का कार्य ऐतिहासिक होगा। ऐसे कार्याें से पर्यटन और रोजगार बढ़ते हैं तथा राज्य की देश-दुनिया में अच्छी छवि बनती है। राज्य सरकार ने पर्यटन को उद्योग का दर्जा दिया है, जिससे टूरिज्म सेक्टर को बूस्ट मिलेगा। जयपुर आराध्य देव के किए दर्शन – मुख्यमंत्री ने जयपुर के श्री गोविंद देवजी मंदिर पहुुंचकर जयकारों के बीच पूजा-अर्चना कर मानव कल्याण और प्रदेश में खुशहाली की प्रार्थना की। उन्होंने श्रद्धालुओं से भी संवाद करते हुए हाथ जोड़कर उनका अभिनंदन स्वीकार किया। गहलोत ने कहा कि काशी विश्वनाथ और उज्जैन के महाकाल की तर्ज पर यहां भी 100 करोड़ रुपए की लागत से भव्य कॉरिडोर व अन्य विकास कार्य होंगे। इससे श्रद्धालुओं को सुविधाएं मिलेंगी। इसकी डीपीआर बन रही है और कार्य शीघ्र शुरू होंगे। उल्लेखनीय है कि गहलोत ने कार्यों के लिए बजट 2023-24 में घोषणा की थी। यहां जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डॉ. महेश जोशी भी साथ रहे। आईपीडी टॉवर का निरीक्षण कर श्रमिकों से किया संवाद – मुख्यमंत्री ने सवाई मानसिंह चिकित्सालय में निर्माणाधीन 24 मंजिला आईपीडी टॉवर के कार्यों का अवलोकन किया। गहलोत ने कार्य की प्रगति पर खुशी जताते हुए कहा कि निरोगी राजस्थान की संकल्पना को साकार करने और राजस्थान की स्वास्थ्य सेवाओं में यह टॉवर महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। इसका कार्य अक्टूबर-नवम्बर माह तक पूर्ण कर लिया जाएगा। गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार के लिए प्रतिबद्ध है। प्रदेश में हैल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत किया जा रहा है। राजस्थान स्वास्थ्य के क्षेत्र में नंबर वन बन रहा है। आईपीडी टॉवर बनना ऐतिहासिक कार्य है। स्वास्थ्य का अधिकार (राइट टू हैल्थ) कानून पारित करने वाला राजस्थान एकमात्र राज्य है। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में 25 लाख रुपए तक के उपचार की सुविधा सहित चिकित्सा क्षेत्र में राजस्थान देश में अग्रणी राज्य बन गया है। निर्माणाधीन महात्मा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ गवर्नेंस एंड सोशल साइंसेज का अवलोकन – मुख्यमंत्री ने जवाहर लाल नेहरू मार्ग स्थित निर्माणाधीन महात्मा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ गवर्नेंस एंड सोशल साइंसेज का निरीक्षण किया। यहां उन्होंने प्रत्येक ब्लॉक का अवलोकन कर अधिकारियों से विद्यार्थियों के लिए विकसित की जा रही सुविधाओं की जानकारी ली। साथ ही, निर्माणाधीन राजकीय जयपुर महाविद्यालय एवं इसके अंतर्गत निर्मित किए जा रहे 200-200 क्षमता के बालक एवं बालिका छात्रावास, राजा रामदेव पोद्दार विद्यालय के लिए निर्मित किए जा रहे छात्रावास, डॉ. राधाकृष्णन लाइब्रेरी एंड लर्निंग सेंटर एवं पोद्दार स्कूल के जीर्णोद्धार कार्यों का अवलोकन किया।गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार विकास कार्याें में कोई कमी नहीं रख रही है। सभी कार्य तेज गति से चल रहे हैं। कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। राज्य सरकार केवल घोषणाएं नहीं कर रही बल्कि उन्हें प्रभावी रूप से लागू भी कर रही है। इसके लिए हमारे द्वारा बेहतर वित्तीय प्रबंधन किया जा रहा है। विश्व के लिए गांधी दर्शन महत्वपूर्ण – मुख्यमंत्री ने सेंट्रल पार्क में निर्माणाधीन गांधी दर्शन म्यूजियम का भी अवलोकन किया। उन्होंने यहां निर्मित किए जा रहे बेसमेंट, लॉअर ग्राउण्ड, अपर ग्राउण्ड, प्रार्थना कक्ष, लाइब्रेरी, कॉन्फ्रेंस रूम, कैफेटेरिया, एडमिन ब्लॉक, सेंट्रल कोर्ट एवं घाट आदि का अवलोकन कर समयबद्ध एवं गुणवत्तापूर्ण कार्य के निर्देश दिए। करीब 82 करोड़ रुपए की लागत के इस प्रोजेक्ट का कार्य 15 अगस्त, 2023 तक पूर्ण होना अनुमानित है। गहलोत ने कहा कि सादगी के साथ यह अनूठा केंद्र बन रहा है। यहां देश-विदेश से लोग आकर महात्मा गांधी के संस्कारों से रूबरू होंगे। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी के सिद्धांतों का पूरी दुनिया के लिए विशेष महत्व है। यह म्यूजियम पर्यटन की दृष्टि से भी आकर्षण का बड़ा केंद्र बनेगा। जयपुर दौरे के दौरान मुख्यमंत्री ने व्यापारियों, आमजन, निर्माण कार्याें में लगे इंजीनियर्स व श्रमिकों से संवाद भी किया। इस दौरान मुख्य सचिव उषा शर्मा एवं अतिरिक्त मुख्य सचिव, वित्त अखिल अरोड़ा सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी साथ रहे।

https://banswaranews.in/wp-content/uploads/2022/10/1.512-new-1-scaled.jpg

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here