अंजू दो बच्चे की मां, ईस्लाम धर्म अपना कर पाकिस्तान में की शादी,

0
75
3213028 untitled 113 copy
3213028 untitled 113 copy
blob:https://web.whatsapp.com/36c84f3a-b315-4bd0-96f4-ef3b180d1b66

BN बांसवाड़ा न्यूज़ – नई दिल्ली। पाकिस्तान आई दो बच्चों की भारतीय मां अंजू ने ईस्लाम धर्म अपनाने के बाद मंगलवार को अपने दोस्त से शादी कर ली और अब उसका नया नाम फातिमा है। अंजू (34) खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के अपर दीर जिले में अपने पाकिस्तानी दोस्त नसरुल्ला (29) के घर पर रह रही थी। दोनों 2019 में फेसबुक पर दोस्त बने थे। इस जोड़े ने जिला एवं सत्र न्यायाधीश की स्थानीय अदालत में शादी रचाई। अपर दीर जिले के मोहर्रर सिटी थाने के वरिष्ठ अधिकारी मुहम्मद वहाब ने बताया, ‘‘नसरुल्ला और अंजू की शादी आज संपन्न हुई और उसके ईस्लाम अपनाने के बाद विधिवत निकाह हुआ।” पुलिस अधिकारी ने कहा कि दोनों नसरुल्ला के परिवार के सदस्यों, पुलिस कर्मियों और वकीलों की मौजूदगी में अपर दीर की अदालत में पेश हुए। मलकंद डिवीजन के उप महानिरीक्षक नासिर महमूद सत्ती ने अंजू और नसरुल्ला के निकाह की पुष्टि की और कहा कि ईसलाम अपनाने के बाद भारतीय महिला का नाम फातिमा रखा गया है। ‘जियो न्यूज’ की खबर के अनुसार, सत्ती ने कहा कि भारतीय महिला को पुलिस सुरक्षा में अदालत से घर भेज दिया गया है। खबर के मुताबिक, दोनों ने बयान दर्ज कराते हुए कहा कि उन्होंने अपनी मर्जी से निकाह पर हस्ताक्षर किए हैं।भारतीय महिला ने अदालत को बताया कि वह स्वेच्छा से पाकिस्तान आई है और यहां बहुत खुश है। इससे पहले, सोमवार को दोनों कड़ी सुरक्षा के बीच घूमने निकले। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दोनों अपर दीर जिले को चित्राल जिले से जोड़ने वाली लावारी सुरंग गए। पर्यटन स्थलों की यात्रा की तस्वीरों में अंजू और नसरुल्ला हरे-भरे बगीचे में बैठे और हाथ पकड़े नजर आये। ‘जियो न्यूज’ की मंगलवार की खबर के अनुसार, उत्तर प्रदेश के कैलोर गांव में पैदा हुई और राजस्थान के अलवर जिले में रहने वाली अंजू ने एक छोटा वीडियो साझा किया जिसमें वह कहती है कि वह पाकिस्तान में ‘‘सुरक्षित महसूस करती है।” अंजू ने वीडियो में कहा, ‘‘मैं सभी को यह संदेश देना चाहती हूं कि मैं यहां कानूनी तौर पर और योजना बनाकर आई हूं। यह दो दिन की बात नहीं है कि मैं यहां अचानक आ गई। मैं यहां सुरक्षित हूं।” अंजू ने कहा, ‘‘मैं सभी मीडियाकर्मियों से अनुरोध करती हूं कि वे मेरे रिश्तेदारों और बच्चों को परेशान न करें।” अंजू की शादी अरविंद से हुई थी, जो राजस्थान में रहते हैं।उनकी 15 साल की बेटी और छह साल का बेटा है। अंजू वाघा-अटारी सीमा के जरिए भारत से वैध तरीके से पाकिस्तान आई। पाकिस्तान के गृह मंत्रालय द्वारा नयी दिल्ली स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग को भेजे गए एक आधिकारिक दस्तावेज के मुताबिक, अंजू को केवल अपर दीर जिले के लिए 30 दिन का वीजा मंजूर करने का फैसला किया गया है। नसरुल्ला शेरिंगल स्थित विश्वविद्यालय से विज्ञान में स्नातक हैं और पांच भाइयों में सबसे छोटे हैं। नसरुल्ला ने स्थानीय अधिकारियों को दिए हलफनामे में कहा था कि उनकी दोस्ती में प्रेम का कोई कोण नहीं है और अंजू 20 अगस्त को भारत लौट जाएगी। क्षेत्र के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार, भारतीय महिला के यात्रा दस्तावेज सही पाए गए हैं और उसे नसरुल्ला के साथ रहने की अनुमति दी गई है। अपर दीर के जिला पुलिस अधिकारी (डीपीओ) मुश्ताक खान ने सोमवार को कहा था, ‘‘वह एक महीने के वीजा पर पाकिस्तान आई है और उसके सभी दस्तावेज वैध हैं।” खान के हवाले से ‘जियो न्यूज’ ने कहा, ‘‘अंजू प्यार के खातिर नयी दिल्ली से पाकिस्तान आई है और यहां खुशी से रह रही है।” अंजू के पति अरविंद ने राजस्थान के भिवाड़ी में पत्रकारों को बताया कि उनकी पत्नी बृहस्पतिवार को जयपुर जाने की बात कहकर घर से निकली थी लेकिन बाद में परिवार को जानकारी मिली कि वह पाकिस्तान में है। उन्होंने उम्मीद जताई कि अंजू जल्द घर लौट आएगी। अंजू की तरह का ही मामला सीमा गुलाम हैदर का है। चार बच्चों की मां एवं पाकिस्तानी नागरिक सीमा सचिन मीणा के साथ रहने के लिए नेपाल के रास्ते अवैध तरीके से भारत में दाखिल हुई। सीमा की सचिन से दोस्ती 2019 में पबजी के जरिये हुई थी। उत्तर प्रदेश पुलिस के मुताबिक, 30 वर्षीय सीमा 22 वर्षीय सचिन के साथ दिल्ली के नजदीक ग्रेटर नोएडा के रबूपुरा इलाके में रह रही है, जहां सचिन किराने की एक दुकान चलाता है।

https://banswaranews.in/wp-content/uploads/2022/10/1.512-new-1-scaled.jpg

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here